हॉस्टल के स्टूडेंट्स ने मांगा खाना, थाली में परोस दी गई मरी हुई छिपकली…

0
70

निलेश सुरेश मोकले – महाराष्ट्र.

मुंबई. शहर के चेंबूर इलाके में स्थित एक सरकारी बॉयज हॉस्टल में दिए गए खाने में मरी हुई छिपकली मिली। पुलिस ने स्टूडेंट्स की शिकायत के बाद मेस कांट्रेक्टर के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। ऐसे थाली में मिली मरी हुई छिपकली…
पुलिस के मुताबिक रविवार को ‘द संत एकनाथ हॉस्टल’ में रहने वाले स्टूडेंट्स में से एक की थाली में मरी हुई छिपकली पाई गई।
– पिछड़े वर्ग के मेधावी छात्रों के लिए बने इस बॉयज हॉस्टल के रख रखाव का जिम्मा सामाजिक कल्याण और न्याय विभाग का है।
– रविवार दोपहर करीब 12:30 बजे जब हॉस्टल के एक लड़के राहुल जंभुलकर ने खाना लिया। राहुल खाना खाना शुरू ही करने वाला था कि उसने अपनी कढ़ी में एक मरी छिपकली देखी।
– इसके बाद राहुल ने इसकी जानकारी हॉस्टल के सभी लड़कों को दी और मेस कॉन्ट्रेक्टर को नोटिस भेजा, लेकिन मेस कॉन्ट्रेक्टर ने ये बात मानने से साफ इंकार कर दिया।
कॉन्ट्रैक्ट खत्म करने की उठी मांग
– राहुल ने बताया कि, “जैसे ही मैंने खाने में छिपकली देखी तो मैंने तुरंत इसके बारे में मेस में काम कर रहे लोगों के बताया जितने भी लोग ऑन ड्यूटी थे मैंने उन सबको ये बताया, लेकिन उन्होंने खाने में मरी छिपकली होने की बात से इंकार कर दिया।”
-“जब मैंने हॉस्टल के और छात्रों को बुलाया और हम खाने की तस्वीरें खीचीं तो मेस कॉन्ट्रेक्टर ने उल्टा हमें ही दोषी ठहरा दिया और हम सबके ऊपर प्रेंक करने का आरोप लगा दिया।”
– “इसके बाद हम सभी समाज कल्याण और जस्टिस विभाग के मंत्री राजकुमार बडोले से मिले और हॉस्टल मेस का खाना खाने से मना कर दिया।”
– अब छात्रों की मांग है कि एस बहुदेशिवा साहकरी का मेस कॉन्ट्रेक्टर खत्म किया जाए, जब तक कॉन्ट्रेक्ट खत्म नहीं किया जाएगा तब तक लड़के उस मेस का खाना नहीं खाएंगे।
पहले भी आई हैं शिकायत
– इससे पहले भी सामाजिक कल्याण और न्याय विभाग द्वारा रख रखाव किए जा रहे हॉस्टल में खराब खाने की शिकायत आ चुकी है।
– साल 2012 में वर्ली के हॉस्टल में पानी की टंकी में मरा हुआ कौवा मिलने का मामाला सामने आया था। उस वक्त ये मामला तब सामने आया था जब छात्रों ने पीने के पानी में ही किड़े पाए थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)